शनिवार, 28 अप्रैल 2012

पिघलता आसमान


इस पेंटिंग का नाम मैंने पिघलता आसमान रक्खा है...यहाँ नदी मे आसमान उतारने को व्याकुल हो रहा....एक अकेला चंद भरसक कोशिश कर रहा की आसमान की ऊंचाई बरकरार रहे...

मंगलवार, 10 अप्रैल 2012

द टाइड



चाँद और समुद्र में अन्योन्याश्रय सम्बन्ध है...और इस सम्बन्ध की परिणति ज्वार भाटा के रूप में होती है...मैंने इस परिणति को चित्रित करने की कोशिश की है....और नाम दिया है इस पेंटिंग को ॥" द टाइड "...

-नीहार

सोमवार, 2 अप्रैल 2012

शक्ति पूजा




ये पेंटिंग मैंने "राम की शक्ति पूजा" नामक कविता से प्रभावित होकर बनाई है...आशा है आपको पसंद आएगी...

शनिवार, 24 मार्च 2012

कोंसेप्सन



इस पेंटिंग का नम मैंने "कोंसेप्सन" रक्खा है....चाहे मानस की या शरीर की गर्भाधान प्रक्रिया हो...हमें एक चक्र से गुज़ारना होता है....मैंने कोशिश की है इस प्रक्रिया को रंग रूप देने की...

सोमवार, 19 मार्च 2012

बुधवार, 14 मार्च 2012

सोमवार, 5 मार्च 2012

आर्तनाद





यह मेरी हाल की बनायीं तस्वीर है जिसका नाम मैंने " आर्तनाद" रक्खा है...